आज के वचन पर आत्मचिंतन...

मेरी प्रार्थना...

पवित्र परमेश्वर, कृपिया मुझे

आज का वचन का आत्मचिंतन और प्रार्थना फिल वैर द्वारा लिखित है। phil@verseoftheday.com पर आप अपने प्रशन और टिपानिया ईमेल द्वारा भेज सकते है।

टिप्पणियाँ