आज के वचन पर आत्मचिंतन...

क्या किसीको फर्क पड़ता है की मै यहाँ हूँ? क्या कोई ध्यान दे जब मै चला जाऊंगा? क्या किसीको चिंता है की मै घर पंहुचा या फिर मै घर से निकला कभी नहीं निकलता ? उत्तर ? "हाँ!, हाँ !!, हाँ!!!, " प्रभु , इज़राईल का उद्धारकर्ता और येशु का पिता हमारे विषय में सब जानता है और हमारा आना और जाना। वह हमारी रक्षा करेगा अभी और अनंतजीवन के लिए।

Thoughts on Today's Verse...

Does it matter to anyone that I'm here? Does anyone notice when I'm gone? Does anybody care if I make it home or never leave the house? The answers? "Yes! Yes!! Yes!!!" The LORD, the Savior of Israel and the Father of Jesus knows all about us and our comings and goings. He will watch over us, now and forevermore.

मेरी प्रार्थना...

पिता, मै आपका धन्यवाद् करता हूँ की जब मै जागता हूँ आप केवल उपस्तिथ ही नहीं होते पर मेरी निगेहबानी भी करते हो । सर्वसामर्थी परमेश्वर, धन्यवाद् की जब मै दिन के अंत में घर लौटता हूँ आप मेरे साथ होते हो, मार्ग दिखते हो और सवागत करते हो । लेकिन सर्वाधिक मै धन्यवाद करता हूँ , प्रिय पिता, की जब मै इस जीवन को छोड़ अगले जीवन में जाऊंगा आप मुझे इस जीवन से लेकर उस घर में आपके साथ जीवन में स्वागत करोगे हमेशा के लिए! येशु के नाम में मै आपकी स्तुति करता हूँ । अमिन ।

My Prayer...

Father, thank you that when I rise up you are not only there, you are watching over me. Almighty God, thank you that when I return home at the end of my day, you are there, escorting me home and welcoming me. I thank you most of all, dear Father, that when I leave this life and go to the next, you are there to escort me out of this life and welcome me home to life with you, forever! In Jesus' name I praise you. Amen.

आज का वचन का आत्मचिंतन और प्रार्थना फिल वैर द्वारा लिखित है। phil@verseoftheday.com पर आप अपने प्रशन और टिपानिया ईमेल द्वारा भेज सकते है।

Today's Verse Illustrated


Inspirational illustration of भजन संहिता 121:8

टिप्पणियाँ