आज के वचन पर आत्मचिंतन...

ज्ञान हमारे "किताब के पढाई",से,अच्चे टिप्पणियाँ,या घमंड के द्वारा नाही दिखाया जाता है.नही,सच्चा ज्ञान हमारे जीवन की भक्ती का चरित्र दिनता और नम्र करने के द्वारा दिखायी देता है.

Thoughts on Today's Verse...

Wisdom isn't shown by our "book learning," smart comments, or arrogance. No, true wisdom is shown by the godly character of our life lived with humility and kind deeds.

मेरी प्रार्थना...

हे पिता,यीशु जैसा मुझे ज्ञानी बनायीये.आपकी इच्छा को परिपूर्णता से जानने के लिये और दया से नम्र हो कर विशवासयोगयाता के साथ जीनके लिये मुझे सामर्थ दीजीये.मेरे मुह का शब्द और मेरे जीवन का कार्य आपको प्रसन्न करे और आपकी अनुग्रह को दुसरो के लिये लाये.यीषु के नाम से प्रार्थना करता हुँ.अमीन.

My Prayer...

O Father, make me wise like Jesus. Please give me the ability to more fully know your will and more faithfully live it with kindness and humility. May the words of my mouth and the actions of my life please you and bring your grace to others. In Jesus' name. Amen.

आज का वचन का आत्मचिंतन और प्रार्थना फिल वैर द्वारा लिखित है। phil@verseoftheday.com पर आप अपने प्रशन और टिपानिया ईमेल द्वारा भेज सकते है।

Today's Verse Illustrated


Inspirational illustration of याकूब ३:१३

टिप्पणियाँ