आज के वचन पर आत्मचिंतन...

आपकी सुरक्षा,आशा और संरक्षण का स्रोत क्या है?प्रभु का रास्ता एक शरण,शक्ति,और सुरक्षा का एक स्थान है!तो सुनिश्चित कर लें कि हम अपने जीवन में वहाँ रहे,जानते हुए भी की परमेश्वर की आज्ञाओं और धर्म के लिए मांग करते है, कि हमारी सुरक्षा के साथ-साथ उसकी महिमा भी हो।

Thoughts on Today's Verse...

What is your source of security, hope, and protection? The way of the Lord is a refuge, a strength, a place of security! Let's make sure we live our lives there, knowing that God's commands and demands for righteousness are for our protection as well as his glory.

मेरी प्रार्थना...

प्रिय प्रभु,कृपया,मुझे और अधिक पूरी तरह से अपनी इच्छा को खोजने और वहाँ मेरे जीवन का निर्माण करने के लिए साहस दिजीये।मैं झूठी आवाज का पालन नहीं करना चाहता हुँ,और न ही मैं अपने सत्य और धर्म से दूर हो कर परीक्षा में पडना चाहता हुँ।आपकी इच्छा ना केवल मेरे लिए खुशी की बात हो,लेकिन मेरे लिये शरण भी हो। यीशु के नाम से प्रार्थना मंगता हुँ.अमीन.

My Prayer...

Please, dear LORD, help me more perfectly find your will and have the courage to build my life there. I don't want to follow false voices, nor do I want to be tempted away from your truth and righteousness. May your will not only be my delight, but also my refuge. In Jesus' name I pray. Amen.

आज का वचन का आत्मचिंतन और प्रार्थना फिल वैर द्वारा लिखित है। phil@verseoftheday.com पर आप अपने प्रशन और टिपानिया ईमेल द्वारा भेज सकते है।

Today's Verse Illustrated


Inspirational illustration of नीतिवचन 10:29

टिप्पणियाँ