आज के वचन पर आत्मचिंतन...

हमारे जीवन में नियंत्रण में कौन है, उसे हम जिस प्रकार जीते है उसके द्वारा दिखाते हैं ! हम इस दुनिया में पिता के साथ हमारे रिश्ते को उसकी चरित्र के साथ जीने के द्वारा दिखाते हैं। तो चलिए आत्मा के नियंत्रण में रहते हैं - आत्मा के प्रेरित वचन का पालन करना और आत्मा की अगुवाई का पालन करना - इसलिए हम जो कहते हैं और करते हैं उसमें यीशु को दिखा और साझा कर सकते हैं!

मेरी प्रार्थना...

प्रिय पिता, कृपया मुझे यीशु की सुंदरता, अनुग्रह और पवित्रता देखने के में मदद करें। मेरा जीवन आज और हर दिन पवित्र आत्मा के नियंत्रण, अनुग्रह और फल को प्रदर्शित करने दीजिये । यीशु के नाम में मैं प्रार्थना करता हूँ। अमिन ।

आज का वचन का आत्मचिंतन और प्रार्थना फिल वैर द्वारा लिखित है। phil@verseoftheday.com पर आप अपने प्रशन और टिपानिया ईमेल द्वारा भेज सकते है।

टिप्पणियाँ